Chapter-1 Golden Rules of Accounting.

accounting,bookkeeping,business accounting,financial accounting,tax accountant,basic accounting,accounting firms,accounting for small business,accounting for business,accounting help,simple accounting,accounting bookkeeping,business bookkeeping,small business tax accountant,golden rule of accounting,accounting rules,accounting golden rules,basic accounting rules,golden principles of accounting,golden rule of accounts,accounts basic rules,accounting basic rules,golden accounting rules,golden rule of account,golden rule of accountancy,3 golden principles of accounting,
Golden Rules of Accounting 
Hello Friends 
आपका www.incometaxguides.in में आपका स्वागत करता हु| हमारी Team Free of Education के लिए आपके लिए लाये है Accounting online Course. ये हमारा First Chapter है जिसमे हम आपको Account क्या है| Account क्यों Important है| Account के Rules, Account कितने प्रकार के होते है| जैसी की हम आज यहाँ पर History of Account पढ़ने वाले है|

जैसे की में आपको बतादू यहाँ पर कोई Commerce के  Student है जो जानते है की Std.11 में हमें Accountancy का subject आता था| जिसमे हमें Account के Rules सिखाते थे| किसी को भी यद् नहीं होगा| हमें भी यहाँ पर Std.11 की कुछ एसे Rules जिसे हम भूल गए है या फिर आपको हम दुबारा याद कराएँगे|
आज हम यहाँ पर golden rule of accounting के बारे में जानेंगे| जिनका इस्तेमाल हम Std.11 में पढ़ते थे तब होता था वोही basic accounting rules है जिसका इस्तेमाल करने से आप C.A., और आप Professional accountant भी बन सकते है| आज हम आपको accounting golden rules जिनका Importance account में बहोत है| जिसे basic accounting rules भी कहा जाता है| Mostly 3 golden principles of accounting है जिसके बारे में हम आपको details में बताएँगे | लेकिन यहाँ पर हम आपको golden rule of accounts के बारे में वोह सब बाते बताने वाले है जो सायद आप किसी accountant के यहाँ जॉब करने पर भी आपको नहीं सिखाएगा| शायद किसी को पता भी होगा या फिर आपने कभी जॉब की होगी तो आपको पता होगा की कोई भी आपको सिर्फ Data Entry करना यानि Payment, Receipt, Sales Bill, Purchase Bill की Entry करना ही सिखाएगा| लेकिन कोई भी आपको account का Finalization करना या फिर आपको Journal Entry करना नहीं सिखाएगा| लेकिन हम आज आपको Account के साथ साथ Tally Software भी सिखाएँगे| और साथ में आपको Tally के Short-Cut Key भी बतायेंगे| यहाँ पर आपको सबसे पहेले ये जानना बहोत जरुरी है की accounts basic rules क्या है| जिसे हम Std.11 में पढ़े थे फिर भी हमे आज याद नहीं है| लेकिन आपको में बतादू की एसा नहीं है की आपने Commerce किया है तो आप ही Account शिख पाएंगे नहीं एसा नहीं है| आप में कुछ करने की या आपको कुछ सिखने के काबलियत है तो आप भी यहाँ पर Account शिख पाएंगे| यहाँ पर आपको हम बताने वाले है की golden accounting rules आप सोच रहे होंगे की इसे golden rule of account क्यों कहते है तो आपको बता रहा हु की ये वाही golden rule of accountancy है जिस पर आज सभी लोग Account लिखते है| गोल्डन rules में 3 golden principles of accounting rules है| जिनका Importance Account में बहोत ही है|
accounting,bookkeeping,business accounting,financial accounting,tax accountant,basic accounting,accounting firms,accounting for small business,accounting for business,accounting help,simple accounting,accounting bookkeeping,business bookkeeping,small business tax accountant,golden rule of accounting,accounting rules,accounting golden rules,basic accounting rules,golden principles of accounting,golden rule of accounts,accounts basic rules,accounting basic rules,golden accounting rules,golden rule of account,golden rule of accountancy,3 golden principles of accounting,

सबसे पहेले हम Account के तिन Rules को याद करते है| जो हमने Std.11 में पढ़े थे|
First Rules :- Rules of Capital Account 

Balance-Sheet में कुछ भी आता है जो उसे Credit यानि जमा कीजिये|
कुछ भी जाता है तो उसे Debit यानि उधार कीजिये|

For Example :- 
3 भागीदार नया Business start करने के लिए या कोई अपना खुदका Business start करने के लिए जो Capital यानि पैसा लायेगा उसे आप उसीके नाम से जमा कीजिये और वोह पैसा कैसे लाया है जैसे की Bank या Cash Account Debit होगा|
Mr. A Started a Business in Rs.1लाख. He is Received Capital by Cheque or Cash. Here Pass Entry in Account.

Credit - Capital A/c  1,00,000
Debit - Cash A/c      1,00,000

इस तरह से ये पहेला Rules है|


Second Rules : Rules of Property Account.
Balance-Sheet में Business के लिए Machinery, Building यानि कोई Assets Purchase
करते है तभी ये rules Follow होता है|
Balance-Sheet में आता है तो उसे Debit यानि उधार कीजिये|
आप कुछ दे रहे है (Cash/Bank) को Credit यानि जमा कीजिये|

For Example :- 
Mr. A Purchase Machinery for start a Business. Pay Cheque या Cash देते है
Machinery Purchase करने के लिए| इस Transaction की Entry कैसे होती है वोह जानते है|
Debit :  Machinery A/c     5,00,000
Credit : Cash/Bank A/c    5,00,000

Third Rules of Income-Expenditures Account.
(आवक -जावक (प्रॉफिट & लोस) का नियम)
Income-expenses (Profit & Loss) में
Income is to be Credited. 
(इनकम आती है तो उसे जमा कीजिये)
Expenses is to be Debited. 
(खर्चा किया है उसे उधार कीजिये)

For Example :-
Mr. A Purchase Stationary for use in Business. Stationary का Bill Cash से
pay करते है| इस Transaction की Entry कैसे होती है वोह जानते है|
Debit :  Stationary A/c    5000
Credit : Cash A/c            5000







 Index - Accounting Course   

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

हमारी वेबसाइट पर आने के लिए धन्यवाद|
Tax देना भारतीय नागरीक का फर्ज है |

आप यहाँ पर आपके Question पूछ सकते है| उसके लिए Ask Question पेज बनाया है वह पर आप Question Comment कर सकते है|
हमारे Assistant आपके Question का उत्तर देने के लिए प्रतिबद्ध है |